नई सरकार में नियुक्ति पाते ही कम्प्यूटर बाबा ने दिखाया दम

0
32

कहा- नई खुलने दूंगा नर्मदा किनारे नई शराब दुकान

प्रदेश में आबकारी नीति को लेकर चल रही सियासी खींचतान के बीच नर्मदा सेवा न्यास के नवनियुक्त अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा ने नर्मदा किनारे से शराब दुकानें हटाने की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि नर्मदा किनारे के गांवों में शराब दुकान न खुलने दी जाएगी और न ही चलने दी जाएगी। इसको लेकर वे जल्द ही मुख्यमंत्री कमलनाथ से चर्चा करने जा रहे हैं।

कंप्यूटर बाबा गुुरुवार को सीहोर पहुंचे। उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि आबकारी विभाग मेरे पास नहीं है, लेकिन नर्मदा किनारे शराब दुकानों के संचालन को लेकर जनता की राय ली जाएगी। किनारे बसे लोगों की राय से मुख्यमंत्री कमलनाथ को अवगत कराया जाएगा। वे अगले हफ्ते 19 एवं 20 मार्च को मुख्यमंत्री से चर्चा करेंगे। जिसमें नर्मदा किनारे की शराब दुकानों को लेकर भी चर्चा होगी। कंप्यूटर बाबा ने चेतावनी देते हुए कहा कि कुछ भी हो नर्मदा किनारे दारू नहीं बिकने दी जाएगी।

मशीनों से नहीं निकलने देंगे रेत

लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू होने से पहले 8 मार्च को नर्मदा न्यास के अध्यक्ष बनाए गए कंप्यूटर बाबा पदभार संभालने के बाद पूजा-पाठ में लीन है। वे नर्मदा पूजन के बाद शिप्रा पूजन के लिए उज्जैन पहुंचे । इसके बाद मंदाकिनी पूजन के लिए चित्रकूट जाएंगे। बाबा ने कहा कि इसके बाद ने न्यास का कामकाज शुरू करेंगे। उन्होंने कहा कि न्यास के अंतर्गत आने वाली नदियां खासकर नर्मदा से मशीनों के जरिए रेत का खनन नहीं होने दिया जाएगा। अवैध उत्खनन तो किसी भी सूरत में नहीं होने देंगे।

बनाएंगे नर्मदा सेना

कंप्यूटर बाबा ने कहा कि नर्मदा के दोनों किनारों के गांव एवं शहरों में नर्मदा संरक्षण के लिए समितियां बनाई जाएंगी। जिन्हें नर्मदा सेना का नाम दिया जाएगा। नर्मदा सेना से जुड़े लोग अवैध उत्खनन एवं अन्य तरह की अवैध गतिविधियों की जानकारी देंगे। बाबा ने कहा कि परिक्रमा वालों के रहने के लिए किनारों पर रैन बसेरा बनाएंगे। जिनमें शौचालय एवं ठहरने के व्यवस्था होगी। घाटों पर सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here